Agriculture portal

फसल बीमा

Back

फसल बीमा  

  • प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के द्वारा कम वर्षा, विपरीत मौसमी परिस्‍थतियों तथा अन्‍य प्राकृतिक कारणों जैसे सूखा, बाढ, जलभराव, कीट- व्‍याधि, प्राकृतिक आग, बिजली गिरना, ओलावृष्टि एवं बेमौसमी वर्षा से फसलों की उपज में होने वाले नुकसान से कृषकों को सुरक्षा प्रदान की जाती है।

निर्धारित प्रीमियम राशि :-

  • कृषकों अधिसूचित क्षेत्र की अधिसूचित फसलों का बीमा कराने पर खरीफ मौसम हेतु बीमित राशि का 2 प्रतिशत, रबी मौसम हेतु 1.5 प्रतिशत तथा उद्यानिकी एवं वाणिज्यिक फसलों हेतु 5 प्रतिशत प्रीमियम राशि देनी होगी। शेष प्रीमियम राशि 50 प्रतिशत भारत सरकार एवं 50 प्रतिशत राज्‍य सरकार द्वारा वहन की जायेगी।

पात्रता :-

  • राज्‍य के सभी वे कृषक जिन्‍होंने अधिसूचित क्षेत्र के लिए अधिसूचित फसल की बुवाई की है।

फसलों का बीमा करवाने की प्रक्रिया :-

  • (क) ऋणी कृषकों की फसलों का बीमा फसल ऋण स्‍वीकृत करने वाले बैंक/ सहकारी समिति द्वारा अनिवार्य आधार पर किया जायेगा। इसके लिये कृषक को अपना आधार नम्‍बर, भामाशाह नम्‍बर (उपलब्‍ध होने पर) मोबाईल नम्‍बर तथा बोई गई फसल का विवरण संबंधित ऋण स्‍वीकृत करने वाले बैंक/ सहकारी समिति को उपलब्‍ध करवाना होगा।
  • (ख) गैर ऋणी कृषकों की फसलों का बीमा सीएचसी केन्द्र के द्वारा करवाया जा सकता है। इसके लिये कृषकों को बोई गई फसल की जमीन की नवीनतम जमाबन्‍दी, गिरदावरी, आधार कार्ड नम्‍बर, भामाशाह नम्‍बर (उपलब्‍ध होने पर) मोबाईल नम्‍बर, कृषक के बचत खाते की प्रति तथा बोई गई फसल का विवरण प्रस्‍तुत करना होगा।
  • (ग) जिलावार अधिसूचित फसलों की सूची- के लिए (यहां क्लिक करें।)
  • रबी 2016-17 में जिलेवार अधिसूचित बीमा कम्पनी का विवरण
    क्र सं बीमा कम्पनी का नाम आवंटित जिले
    1 एग्रीकल्‍चर इन्‍श्‍यारेन्‍स कम्‍पनी ऑफ इण्डिया लिमिटेड अलवर, डूंगरपुर, जोधपुर, बारां, बीकानेर, चित्तौड, टोंक, अजमेर, गंगानगर, जालोर, सवाईमाधोपुर, उदयपुर, जयपुर, भरतपुर, दौसा, पाली, प्रतापगढ
    2 यूनाईटेड इण्डिया इन्‍श्‍योरेन्‍स कम्‍पनी लिमिटेड बून्दी, सीकर, जैसलमेर, कोटा, सिरोही
    3 न्यू इंण्डिया ऐश्योरंस कम्‍पनी लिमिटेड चूरू, भीलवाड़ा, राजसमंद
    4 बजाज एलियान्ज़ जनरल इन्‍श्‍योरेन्‍स कम्‍पनी बाड़मेर, धौलपुर, हनुमानगढ़, बांसवाडा, झालावाड, नागौर, करौली, झुन्‍झुनू

समयावधि :-

  • फसल उपज के ऑकडे बीमा कम्‍पनी को उपलब्‍ध होने के 15 दिवस के भीतर बीमा क्‍लेम का भुगतान का प्रावधान हैा

बीमा क्लेम (दावों) का भुगतान :-

  • कृषकों की उपज में कमी के आधार पर अधिसूसचित बीमा कम्‍पनी द्वारा सीधे ही डीबीटी के माध्‍यम से बीमा क्‍लेम कृषकों के खाते में जमा किया जायेगा। सम्‍पूर्ण अधिसूचना के लिये (यहां क्लिक करें।)।

कहां सम्पर्क करें :-

  • ग्राम पंचायत स्तर पर :- कृषि पर्यवेक्षक
  • पंचायत समिति स्तर पर :- सहायक कृषि अधिकारी
  • जिला स्तर पर :- उप निदेशक कृषि (विस्तार), जिला परिषद