Farmers Facility II

 

राजस्‍थान राज्य भण्‍डार व्‍यवस्‍था निगम

(सरकार का प्रतिष्‍ठान)

प्रधान कार्यालय, भवानी सिंह रोड, जयपुर

 

 

समस्‍त वरिष्‍ठ भण्‍डार प्रबन्‍धक 
भण्‍डार प्रबन्‍धक (प्रभारी), 
राज्‍य भण्‍डारगृह।

 


विषय:- निगम द्वारा किसानों को उनकी कृषि उपज भण्‍डारगृहों पर जमा कराने पर 75 प्रतिशत रहन ऋण उपलब्‍ध कराने के सम्‍बन्‍ध में।

 


निगम द्वारा किसानों को उनकी कृषि उपज भण्‍डारगृहों पर जमा कराने पर 75 प्रतिशत रहन ऋण उपलब्‍ध कराने के सम्‍बन्‍ध में वित्‍तीय वर्ष 1999-2000 से निरन्‍तर लागू रहन ऋण योजना को वित्‍तीय वर्ष 2003-2004 के लिए भी लागू किया जाता है। रहन ऋण योजना के अन्‍तर्गत किसान खाद्यान्‍न में गेंहू, तिलहन में सरसों, सोयबीन, तारामीरा, अलसी, तिल, मसालों में धनिया, जीरा, मेथी तथा ग्‍वार एवं ईसबगोल जमा कराने पर रहन ऋण योजना का लाभ उठा सकेंगे।

रहन ऋण की सामान्‍य अवधि 180 दिन है एवं इसके बाद विशेष परिस्थितियों में दण्‍डात्‍मक ब्‍याज पर 270 दिन नियत है। किसान द्वारा लिये गये रहन ऋण पर 180 दिन तक 12 प्रतिशत की दर से ब्‍याज लिया जायेगा एवं उसके उपरान्‍त विशेष परिस्थितियों में 2 प्रतिशत की दर से अतिरिक्‍त दण्‍डात्‍मक ब्‍याज वसूल किया जायेगा।

 

उक्‍त रहन ऋण की योजना की प्रक्रिया एवं शर्ते पूर्वानुसार की रहेंगी तथा इससे सम्‍बन्धित अपनायी जाने वाली प्रक्रिया, ऋण आवेदन-पत्र काश्‍तकार के हस्‍ताक्षर का नमूना प्राप्‍त करने, भार पत्र डिमाण्‍ड प्रोमेजरी नोट, वेयरहाउस रसीदों के विरूद्व ऋण स्‍वीकृत किये जाने की प्रक्रिया का विस्‍तृत विवरण साथ संलग्‍न कर निर्देश दिये जाते है कि निर्धारित प्रक्रिया के अनुसार किसानों को उक्‍त कृषि जिन्‍सों की उपज पर ऋण दिये जाने की कार्यवाही किया जाना सुनिश्चित करें।

 

यह विदित रहे कि निगम द्वारा सामान्‍य श्रेणी एवं अनुसूचित जाति/जनजाति के समस्‍त किसानों को संग्रहण शुल्‍क में निम्‍नानुसार जो छूट दी जा रहीं है, वह इस योजना के अन्‍तर्गत जमा कृषि उपज पर भी यथावत रहेगी :-

 

 

 

 

1½- समस्‍त किसानों को

60 प्रतिशत

2½- समस्‍त अनुसूचित जाति/जनजाति के किसानों को

70 प्रतिशत

 

 

किसानों को ऋण देने हेतु जिनती अग्रिम राशि की आवश्‍यकता हो, उसकी तत्‍काल सूचना दूरभाष पर वित्‍तीय सलाहकार, प्रधान कार्यालय को देवें एवं ऋण आवेदन पत्रों की आवश्‍यकता के सम्‍बन्‍ध में वरिष्‍ठ प्रबन्‍धक (स्‍टोर्स), प्रधान कार्यालय को सूचित करें, ताकि प्रधान कार्यालय से अग्रिम राशि एवं ऋण आवेदन पत्र अविलम्‍ब उपलब्‍ध कराये जा सकें। उक्‍त योजना के अन्‍तर्गत दिये गये अग्रिम एवं इसकी वसूली से सम्‍बन्धित समस्‍त विवरण यथा समय लेखा अनुभाग, प्रधान कार्यालय को भिजवाना सुनिश्चित करें।